Logo HindustanResult.com

Share on:- Share

Current Affairs :- 31-January-2017
Highlights of Economic Survey 2016-17

Union finance Minister Arun Jaitley tabled the Economic Survey 2016-17 in Parliament budget session. The survey prepared by chief economic adviser in the finance ministry Arvind Subramanian. The survey projects the economy to grow in the range of 6.75% to 7.25% in fiscal year 2017-18 in the post-demonetisation year. It says that the adverse impact of demonetisation on GDP growth will be transitional. Gross domestic product (GDP) growth in 2016-17 pegged at 6.5%, down from 7.6% in last fiscal 2015-16. Economic growth to rebound to 6.75 to 7.5% in 2017-18. Farm sector to grow at 4.1% in 2016-17, up from 1.2% in 2015-16. Growth rate of industrial sector estimated to moderate to 5.2% in 2016-17 from 7.4% in 2015-16.

Bombay Natural History Society launches climate change programme in Central Himalayas

The Bombay Natural History Society (BNHS) has launched climate change programme to conduct study to assess the status, distribution and conservation of Pheasants and Finches in Central Himalayas. It is long-term monitoring project funded by Oracle and facilitated by CAF-India. It will focus on their conservation in the context of climate change with the help of community participation. The Himalayas hold a rich natural heritage with diverse flora and fauna enhancing the beauty of the region. Indian subcontinent is home to nearly 62 species of finches and 50 species of pheasants, with several species listed in ‘Globally Threatened’ category by IUCN. Both these groups are spread across the Himalayas.

Atomic clocks on indigenous navigation satellite IRNSS-1A develops snag

he atomic clocks on the first satellite IRNSS-1A of the NavIC (Navigation with Indian Constellation), the indigenously built satellite-based positioning system, has developed a technical snag. One of the three crucial rubidium timekeepers (atomic clock) on IRNSS-1A satellites failed six months ago and the other two followed subsequently. ISRO will soon launch one of its back up navigation satellites as a replacement to IRNSS-1A satellite. Remaining satellites of NavIC constellation (having total 7 satellites) are performing their core function of providing accurate position, navigation and time. Each satellite has three clocks and a total of 27 clocks for the navigation satellite system. These clocks are supplied same foreign vendor. These clocks are important to provide precise data.

Finance Ministry to aid Rashtriya Rail Sanraksha Kosh for rail safety

The Union Finance Ministry has agreed to contribute partially to a new dedicated railway safety fund named as ‘Rashtriya Rail Sanraksha Kosh’ in the upcoming Union Budget 2017-18. The proposed safety fund will be utilised for track improvement, bridge rehabilitation, rolling stock replacement, human resource development, improved inspection system and safety work at level crossing, among other things.The Finance Ministry is likely to grant a fresh infusion of only Rs. 5,000 crore in the upcoming financial year out of the initial proposed corpus of Rs. 20,000 crore. About Rs. 10,000 crore will be earmarked from the Central Road Fund (CRF) that is collected by levying a cess on diesel and petrol at present for safety-related work.

IT Ministry urges tax incentives for PC manufacturers too

The Ministry of Electronics and Information Technology (MeitY) in its key recommendations for Union Budget 2017-18, has suggested differential excise duty regime and tax exemptions to be expanded to personal computers and servers. Ministry’s suggestions were as per the Phased Manufacturing Roadmap, it had worked out in consultation with the NITI Aayog.Retain differential excise duty regime and tax exemptions granted for the manufacture of mobile handsets and tablets, under the impending GST regime, to boost domestic manufacturing of electronic products. The current differential duty makes imports of mobile handsets more expensive compared with making them locally, encouraging smartphone players to set up manufacturing units in India.

DMCA.com Protection Status
.

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 31-January-2017 Click here
करेंट अफेयर्स :- 31 January-2017
फ्रांस की 24 साल की आइरिस मितेनेयर ने 65वीं मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता का ताज अपने नाम कर लिया है

फ्रांस की 24 साल की आइरिस मितेनेयर ने 65वीं मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता का ताज अपने नाम कर लिया है। हैती की राक्वेल पेलिशियर दूसरे स्थान पर रहीं। मूल रूप से पेरिस की आइरिस दंत शल्य चिकित्सा में स्नातक की पढ़ाई कर रही हैं।मिस यूनिवर्स बनने के बाद अब उनका लक्ष्य दांतों और मुख की स्वच्छता संबंधी जागरूकता फैलाने का है। वह नॉर्दन फ्रांस के लिली की रहने वाली हैं। भारत की रोशमिता हरिमूर्ति अंतिम 13 में भी जगह बनाने में नाकामयाब रही।पूर्व मिस यूनिवर्स एवं भारतीय अभिनेत्री सुष्मिता सेन प्रतियोगिता में जज की भूमिका में थी। सुष्मिता ने वर्ष 1994 में यह खिताब जीता था। वहीं, भारतीय मूल की सिख गर्ल किरन जस्साल ने मलेशिया को रिप्रेजेंट किया था। प्रतियोगिता की अंतिम 13 प्रतिभागी केन्या, इंडोनेशिया, मैक्सिको, पेरू, पनामा, फिलिपीन, कनाडा, ब्राजील, थाईलैंड और अमेरिका से थीं।मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता का 65वां संस्‍करण खास रहा क्योंकि इस बार यह फिलिपिंस के मनीला शहर में आयोजित हुआ

केंद्र सरकार ने महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर स्पर्श कुष्ठ जागरूकता पखवाड़े का आयोजन किया।

केंद्र सरकार ने महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर स्पर्श कुष्ठ जागरूकता पखवाड़े का आयोजन किया। 30 जनवरी 2017 को शुरू होकर यह अभियान 13 फरवरी 2017 तक चलेगा। स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान के तहत पहले दिन शपथ ली जाएगी।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने अपने संदेश में देश से कुष्‍ठ रोग के निवारण के लिए सामूहिक प्रयास की अपील की है। मोदी ने कहा कि राष्‍ट्रीय कुष्‍ठ उन्‍मूलन कार्यक्रम के तहत इस रोग के निवारण के प्रयास महात्‍मा गांधी की अभिलाषा के प्रति सच्‍ची श्रद्धांजलि हैकुष्ठ रोग माइकोबैक्टीरियम लेप्री के कारण होने वाला एक क्रोनिक संक्रामक रोग है, जिसके परिणामस्वरूप त्वचा पर गंभीर कुरूप घाव हो जाते हैं तथा हाथों और पैरों की तंत्रिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती हैं।एक रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2015 में विश्व स्तर पर 212000 लोगों को कुष्ठ रोग हुआ था जिसमे से 60% भारतीय थे, अन्य उच्च बोझ वाले देश ब्राजील और इंडोनेशिया थे। नए मामलों में 8.9% बच्चे थे और 6.7% विकृति के साथ दिखाई दे रहे थे

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने 30 जनवरी 2017 को मेघालय में पहले अपैरल एंड गारमेंट मेकिंग सेंटर का उद्घाटन किया।

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने 30 जनवरी 2017 को मेघालय में पहले अपैरल एंड गारमेंट मेकिंग सेंटर का उद्घाटन किया। साउथ वेस्ट गारो हिल्स के अम्पाती इलाके के समीप यह सेंटर बनाया गया है। मेघालय के मुख्यमंत्री डॉ. मुकुल संगमा और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजीजू भी इस मौके पर उपस्थित थे।ईरानी ने जानकारी दी कि महज मेघालय में ही रेशम उत्पादन और बुनाई के नाम पर वस्त्र मंत्रालय 70 करोड़ की परियोजना हाथ में ले रही है। स्मृति ईरानी ने कहा कि हथकरघा के विकास के नाम पर मेघालय राज्य के लिए इस बीच 32 करोड़ रुपयों का अनुमोदन हो चुका है। उन्होंने युवाओं से खासकर महिलाओं से अपील की कि वे हथकरघा में अपनी दक्षता दिखाए45,000 स्क्वायर फीट इलाके में बने इस अपैरल एंड गारमेंट मेकिंग सेंटर की स्थापना अम्पाती के समीप हातिसिल में 14.26 करोड़ रुपयों की लागत से किया गया है। इस केंद्र की नींव 2015 में तत्कालीन केंद्रीय कपड़ा मंत्री की उपस्थिति में मेघालय के मुख्यमंत्री ने रखी थी।

अगले तीन ओलंपिक खेलों के लिए कार्य योजना तैयार करने के लिए सरकार ने टास्क फ़ोर्स का गठन किया है

अगले तीन ओलंपिक खेलों के लिए कार्य योजना तैयार करने के लिए सरकार ने टास्क फ़ोर्स का गठन किया है। इस टास्क फ़ोर्स की घोषणा खेल मंत्री विजय गोयल ने की। इस टास्क फाॅर्स का गठन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुमोदन के बाद किया गया है।इसमें ओलंपियन और कोच पुलेल्ला गोपीचंद और ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा को शामिल किया गया है। हाल ही में अभिनव बिंद्रा को पुनर्गठित लक्ष्य ओलंपिक पोडियम (टॉप) समिति का अध्यक्ष बनाया गया है।इसके अलावा टाइम्स ग्रुप के चीफ एडिटर राजेश कालरा को भी इस टास्क फ़ोर्स में शामिल किया गया है। स्कूल स्पोर्ट्स प्रमोशन फाउंडेशन ओम पाठक, ओलंपिक गोल्ड क्वेस्ट के सीईओ विरेन रासकिन्हा और हॉकी कोच बलदेव सिंह भी अगले तीन ओलंपिक खेलों की कार्य योजना तैयार करेंगेफरीदाबाद मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के एप्लाइड साइंस के प्रोफेसर और अध्यक्ष जीएल खन्ना भी टास्क फ़ोर्स के सदस्य हैं। गुजरात के स्पोर्ट्स अथॉरिटी के डायरेक्टर जनरल संदीप प्रधान भी तीन ओलंपिक खेलों के लिए कार्य योजना तैयार करेंगे।

हॉकी इंडिया ने कहा, लिखित माफी मांगे पाकिस्तान हॉकी महासंघ तभी द्विपक्षीय सीरीज

हॉकी इंडिया ने कड़ा कदम उठाते हुए सोमवार को स्पष्ट किया कि वह पाकिस्तान के साथ तब तक कोई द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेलेगा जब तक देश का महासंघ 2014 चैम्पियंस ट्रोफी के दौरान अपने खिलाड़ियों के गैर पेशेवर व्यवहार के लिए बिना शर्त लिखित माफी नहीं सौंपता। पाकिस्तान हॉकी महासंघ (पीएचएफ) के सचिव शाहबाज अहमद ने हाल में आरोप लगाया था कि भुवनेश्वर में चैम्पियंस ट्रोफी सेमीफाइनल के दौरान हुई घटना के कारण पिछले साल लखनऊ में हुए जूनियर विश्व कप में उनकी टीम को भाग लेने से रोक दिया गया था।

DMCA.com Protection Status
IMPORATANT LINKS
Current Affairs 31-January-2017 Click here

DMCA.com Protection Status Disclaimer : The Examination Results / Marks published in this Website is only for the Immediate Information to the Examinees an does not to be a constitute to be a Legal Document. While all efforts have been made to make the Information available on this Website as Authentic as possible. We are not responsible for any Inadvertent Error that may have crept in the Examination Results / Marks being published in this Website nad for any loss to Anybody or anything caused by any Shortcoming, Defect or Inaccuracy of the Information on this Website.Thank You!


CopyRight@2017  HindustanResult.Com All Rights Reserved     Contact Us