Logo HindustanResult.com

Share on:- Share

Current Affairs :- 22-December-2016
December 22: National Mathematics Day

The National Mathematics Day is observed every year on 22nd December to celebrate birth anniversary of great Indian autodidact Mathematician Srinivasa Ramanujan. This year, it is 129th birth anniversary of Srinivasa Ramanujan. About Srinivasa Ramanujan Srinivasa Ramanujan was born on 22nd December, 1887 in Erode district of Tamil Nadu. He died at young age of 32 on 26 April 1920. He was considered as doyen of number theory, infinite series, mathematical analysis, and making formulas and equations without any formal training in pure mathematics.He in the same league as great mathematicians such as Euler and Gauss.

Hong Kong revokes visa-free entry to Indians

Hong Kong, a China-administered special territory has decided to withdraw visa-free facility for Indians from January 23, 2017. This decision was taken on the ground to prevent illegal immigration as number of Indian asylum seekers was on the rise. Over half a million Indians visit Hong Kong for business, trade and holidays.

Union Cabinet approves ordinance to pay salaries by cheques

The Union Cabinet has approved a draft ordinance to empower states and allow industries to pay workers’ wages digitally, through a direct bank transfer to accounts or by cheque in a bid to encourage cashless transactions. The draft ordinance proposes changes to the Section 6 of the Payment of Wages Act, 1936 to encourage cashless transactions. It will need the President’s assent to become law as per article 123 of the Constitution.

Parliamentary committee report highlights alarming rise in forest fires

According to report submitted by Parliamentary Standing Committee on Science and Technology, there is alarming rise in forest fires across India. It says that the number of forest fires have touched 24,817 in 2016 from 15,937 fires in 2015. It shows alarming rise 55% in the past year. The report primarily focuses on the prevention and containing of fires in the Himalayan forests spread across Himachal Pradesh, Uttarakhand and Jammu and Kashmir. There increase in forest fires is seen even though 2015 was considered a drought year. But there is decline in frequency of forest fires by around 16%.

Kaisa Matomaki, Maksym Radziwill win 2016 SASTRA Ramanujan award

Kaisa Matomaki and Maksym Radziwill have been jointly won the 2016 SASTRA-Ramanujan award for mathematics for their ‘revolutionary’ collaborative work on short intervals in number theory. Their mathematical work dwells on properties of numbers in “short intervals.” The two mathematicians worked with Fields medallist Terence Tao in making a breakthrough on the Chowla conjecture. They were presented with this prestigious award at inauguration of International Conference on Number Theory at SASTRA University at Kumbakonam. Kaisa Matomaki from Finland’s University of Turku is first woman to receive this prize since it was instituted in 2005. Maksym Radziwill is Assistant professor at McGill University, Canada. .

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 22-December-2016 Click here
करेंट अफेयर्स :- 22 December-2016
मोदी पर इल्जाम लगाना राहुल की मजबूरी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को मेहसाणा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कथित तौर जो सनसनीखेज आरोप लगाया, उसमें नयापन कम और मजबूरी ज्यादा दिखती है। उनके आरोपों में कुछ नयापन इसलिए नहीं है क्योंकि इन्हीं सारे इल्जामों को लेकर प्रशांत भूषण की याचिका पहले से ही सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। कोर्ट ने उनसे पुख्ता सबूत लाने को कहा है। बगैर पुख्ता सबूत वह इस मामले पर सुनवाई के लिए राजी नहीं है। अब 11 जनवरी को इस मामले की अगली सुनवाई होनी है।

दलाई लामा को लेकर फिर भारत पर भड़का चीन, की बूते की बात

तिब्बत के आध्यात्मिक नेता दलाई लामा की हाल में ही राष्‍ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात पर चीन ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उसने भारत की ताकत पर सवाल खड़े करते हुए सीख दी है कि जब चीन के आंतरिक मामलों में दखल देने से पहले अमेरिका को दो बार सोचना होता है तो फिर भारत की क्‍या बिसात है। चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने भारत को बिगड़ैल बच्‍चा बताया है और कहा है कि भारत के पास महान देश बनने की क्षमता है लेकिन इस देश का विजन अदूरदर्शी है। चीन ने इस मामले में मंगोलिया के हालिया प्रकरण का उदाहरण दिया है। बता दें कि दलाई लामा की मेहमाननवाजी कर चीनी कोप झेलने के बाद मंगोलिया ने कहा है कि वह तिब्बती धर्म गुरु को दोबारा देश का दौरा करने की इजाजत नहीं देगा।

विकास के साथ बढ़ानी होगी सोशल सिक्यॉरिटी स्कीम्स की रफ्तार

पी वी नरसिम्हा राव ने जब इंडियन इकॉनमी के दरवाजे खोलने शुरू किए थे, तो गठबंधन की राजनीति और उनकी पार्टी के कई लोगों ने रोड़े अटकाए थे। राव के कदमों ने उद्यमिता की जो लहर पैदा की थी, उनका असर नरेंद्र मोदी सरकार की योजनाओं तक में दिख रहा है। मनमोहन सिंह सरकार ने डिजिटल टेक्नॉलजी और लोगों के लिए यूनीक आइडेंटिफिकेशन की दिशा में कदम बढ़ाए थे और मोदी सरकार ने इस आइडिया को तेज रफ्तार दी है। अब डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर, जन धन खातों, अटल पेंशन योजना या किसानों के लिए बीमा कवरेज के विस्तार में टेक्नॉलजी का बढ़-चढ़कर इस्तेमाल हो रहा है।अर्थशास्त्री और आरबीआई बोर्ड की मेंबर रहीं इंदिरा राजारमन ने कहा, 'यूपीए ने जो शुरू किया था, मोदी सरकार उसे आगे ले जा रही है।' उन्होंने कहा, 'इस सरकार ने फाइनैंशल इन्क्लूजन, एलपीजी और जन धन खातों के जरिए बीमा और डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर को बढ़ावा दिया है। स्वच्छ भारत जैसी कुछ योजनाएं बिखर गई हैं, लेकिन जन धन से जुड़ी योजनाओं का प्रदर्शन अच्छा रहा है।'

नोटबंदीः केंद्र-RBI में समन्वय की कमी, रिश्ते में तनाव ?

नोटबंदी की घोषणा के बाद सरकार और आरबीआई दोनों के ऊपर इसे सही तरह से जहां लागू करने का दबाव था, वहीं इस दबाव के कारण दोनों के बीच कम्युनिकेशन की कमी खुल कर सामने आ गई है। आरबीआई और सरकार के सूत्रों के मुताबिक, विभिन्न उपायों को सहजता से लागू करने में दोनों के बीच समन्वय की भी कमी है। हाल का मामला 20 दिसंबर के बाद 5,000 से ऊपर के पुराने नोटों को जमा कराने को लेकर रखी गई शर्तों की अधिसूचना से जुड़ा है। हमारे सहयोगी 'टाइम्स ऑफ इंडिया' से बातचीत में सरकार से जुड़े सूत्रों ने बताया कि आरबीआई ने अधिसूचना को बहुत 'खराब तरीके से ड्राफ्ट' किया था, विशेषकर उस सेक्शन को जिसमें अमान्य कर दिए गए नोटों को डिपॉजिट करने में हुई देरी की वजहें पूछी गईं थीं।

भारत को 'दुश्मनी छोड़कर' सीपीईसी में होना चाहिए शामिल: टॉप पाकिस्तानी आर्मी अफसर

पाकिस्तान के एक शीर्ष अफसर ने एक चौंकाने वाले कदम के तहत भारत को चीन-पाकिस्तान आर्थिक कॉरिडोर (सीपीईसी) में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा है कि भारत को पाकिस्तान के साथ 'दुश्मनी छोड़कर' अरबों डॉलर की परियोजना का संयुक्त रूप से लाभ उठाना चाहिए। क्वेटा स्थित दक्षिणी कमान के लेफ्टिनेंट जनरल आमिर रियाज ने मंगलवार को यह बात बलूचिस्तान फ्रंटियर कोर मुख्यालय में एक पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में कही।

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 22-December-2016 Click here

DMCA.com Protection Status Disclaimer : The Examination Results / Marks published in this Website is only for the Immediate Information to the Examinees an does not to be a constitute to be a Legal Document. While all efforts have been made to make the Information available on this Website as Authentic as possible. We are not responsible for any Inadvertent Error that may have crept in the Examination Results / Marks being published in this Website nad for any loss to Anybody or anything caused by any Shortcoming, Defect or Inaccuracy of the Information on this Website.Thank You!


CopyRight@2017  HindustanResult.Com All Rights Reserved     Contact Us