Logo HindustanResult.com

Share on:- Share

Current Affairs :- 19 December-2016
Union Government forms high-level task force on Indus Water Treaty

The Supreme Court in a landmark verdict held that Jammu and Kashmir is an integral part of India and did not enjoy sovereign status, either under its constitution or that of India. The apex court made this observation while hearing on appeal filed by State Bank of India (SBI) and other banks over the issue of recovery of loans under Securitisation and Reconstruction of Financial Assets and Enforcement of Security Interest (SARFAESI) Act, 2002. It affirmed that J&K’s constitution was subordinate to the Indian Constitution and its permanent residents were Indian citizens.

AYUSH Ministry launches Swasthya Raksha Programme

The Union AYUSH Ministry has launched ‘Swasthya Raksha Programme’ to promote health and health education in villages. The programme was initiated through Central Council for Research in Ayurvedic Sciences (CCRAS), Central Council for Research in Homoeopathy (CCRH), Central Council for Research in Unani Medicine (CCRUM) and Central Council for Research in Siddha (CCRS). It was launched by AYUSH Ministry in October 2015.

World’s first Goat with superfine wool cloned in China

The world’s first cloned goat bearing superfine Cashmere wool was born in north China’s Inner Mongolia Autonomous Region. The goat will be raised in a base for animal husbandry research conducted by experts from agricultural universities in southwest China’s Yunnan Province and Inner Mongolia. Cashmere wool is obtained from Cashmere goats and few other types of goat. The wool fibre obtained from clonned goat is less than 13.8 micrometres thick. It is much finer than the average of 15.8 micrometres of the famous Erlang Mountain goats in Inner Mongolia.

Union Power Ministry to launch GARV-II Mobile App to monitor rural electrification programme

The Union Power Ministry is going to launch new mobile application GARV-II to provide real time data of all six lakh villages of the country. The purpose of the mobile application is to ensure transparency in implementation of rural electrification programme.GARV-II mobile app has incorporated village-wise; habitation-wise base line data on household electrification for all states. It also has mapped village-wise works sanctioned under Deen Dayal Upadhyaya Gram Jyoti Yojana (DDUGJY) to monitor progress of works in each village.It also incorporates the status of release of funds to the states for electrification projects sanctioned under DDUGJY.

Telecom Ministry to launch Tarang Sanchar portal check radiation compliance of mobile towers

The Department of Telecom (DoT) will soon launch ‘Tarang Sanchar’ portal that will let users check radiation compliance status of mobile towers and transmitters across country. Using this portal user can also request to get a particular BTS tested by DoT to assess its electro-magnetic frequency (EMF) compliance level. .

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 19-December-2016 Click here
करेंट अफेयर्स :- 19 December-2016
रूस ने फिर बढ़ाई भारत की चिंता, चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर का किया समर्थन

पाकिस्तान और रूस की बढ़ती नजदीकियों ने भारत के नीति निर्धारकों की नींद उड़ा रखी है। पहले आधिकारिक तौर पर चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर (CPEC) प्रॉजेक्ट में दिलचस्पी नहीं रखने का ऐलान करने वाले रूस ने पलटी मारते हुए अब न सिर्फ उसका मजबूती से समर्थन किया है बल्कि अपने यूराशियन इकनॉमिक यूनियन प्रॉजेक्ट को सीपीईसी के साथ लिंक करने की अपनी मंशा भी जाहिर कर दी है। ऐसे समय में जब भारत पाकिस्तान को आतंकवाद के मोर्चे पर अलग-थलग करने की कोशिशों में जुटा है, रूस का यह रुख भारत के लिए काफी चिंता की बात है। सीपीईसी पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान में स्थित ग्वादर और चीन के जिनजियांग को जोड़ेगा। भारत के लिए चिंता की बात यह भी है कि यह कॉरिडोर पाक अधिकृत कश्मीर के गिलगित-बाल्टिस्तान इलाके से भी गुजरता है, जिस पर भारत का दावा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सीपीईसी के मुद्दे पर सीधे चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग से मुलाकात में ऐतराज जता चुके हैं, पर चीन ने भारत की आपत्ति को ज्यादा तवज्जो नहीं दी है।।

भारत के लिए बुरी खबर: म्यांमार के नए आतंकी संगठन संग लश्कर और इंडियन मुजाहिदीन का संबंध

ब्रसल्ज के एक इंटरनैशनल क्राइसिस ग्रुप (ICG) के मुताबिक, म्यामांर के राखीन प्रांत में एक नया आतंकवादी समूह अस्तित्व में आ गया है। इसका नाम हराका अल याकिन (HaY) बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, इसमें रोहिंग्या संप्रदाय के मुस्लिम हैं। मालूम हो कि म्यांमार में रोहिंग्या अल्पसंख्यक समुदाय है। पिछले काफी समय से बहुसंख्यक बौद्ध संप्रदाय के लोगों द्वारा इस समुदाय पर अत्याचार करने और इन्हें निशाना बनाए जाने की खबरें आ रही थीं। म्यांमार में एक नए आतंकवादी संगठन का पनपना भारत के लिए काफी चिंता की मसला है।

फांसी की सजा देने के मामले में तीसरे नंबर पर है पाकिस्तान

पेशावर के एक स्कूल में दो साल पहले हुए जघन्य आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान सरकार ने फांसी की सजा दिए जाने पर लगी रोक को हटा लिया था। तब से अब तक पाकिस्तान में दुर्दांत आतंकियों समेत कुल 419 अपराधियों को फांसी पर लटकाया जा चुका है। इसके साथ ही पाकिस्तान दुनिया भर में फांसी की सजा दिए जाने के मामले में तीसरे नंबर का देश हो गया है। 16 दिसंबर, 2014 को आतंकियों ने पेशावर के एक सैनिक स्कूल में हमला बोलकर 50 से ज्यादा बच्चों को कत्ल कर दिया था। इसके जवाब में आतंकियों पर लगाम कसने के लिए पाक सरकार ने फांसी की सजा पर लगी रोक को हटा लिया था।

नोटबंदी पर घमासान: यूपी में आमने-सामने होंगे पीएम मोदी और राहुल गांधी

संसद के बाद नोटबंदी पर लड़ाई अब सड़क पर भी लड़ी जा रही है। संसद में नोटबंदी पर घमासान के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी जनता के बीच आमने-सामने होंगे। दोनों नेता सोमवार को उत्तर प्रदेश में मौजूद रहेंगे। माना जा रहा है कि राहुल गांधी जहां नोटबंदी को लेकर एक बार फिर सरकार के खिलाफ आक्रामक होंगे, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद न चलने देने के लिए विपक्ष पर अपने अंदाज में तगड़े हमले करेंगे। नजरें इस बात पर भी रहेंगी कि प्रधानमंत्री के 'निजी भ्रष्टाचार' की जानकारी होने का दावा कर रहे राहुल गांधी क्या उत्तर प्रदेश में इस पर कोई खुलासा करेंगे?

सेना प्रमुख की नियुक्ति पर विवाद: सरकार ने बताया क्यों दी गई ले.ज. बिपिन रावत को तरजीह

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि इस फैसले के लिए 10 जनपथ (कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का निवास) से इजाजत लेने की जरूरत नहीं है। अब पारदर्शिता से काम हो रहे हैं। आर्मी चीफ के पद पर ले.ज. बिपिन रावत की नियुक्ति दो अफसरों की वरिष्ठता को दरकिनार कर की गई है। पूर्वी कमान के प्रमुख ले.ज. प्रवीण बख्शी और दक्षिणी कमान के प्रमुख ले.ज. पी. एम. हैरिज इस वक्त ले. ज. रावत से सीनियर हैं। इस पर कांग्रेस और लेफ्ट ने सवाल उठाए हैं।

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 19-December-2016 Click here

DMCA.com Protection Status Disclaimer : The Examination Results / Marks published in this Website is only for the Immediate Information to the Examinees an does not to be a constitute to be a Legal Document. While all efforts have been made to make the Information available on this Website as Authentic as possible. We are not responsible for any Inadvertent Error that may have crept in the Examination Results / Marks being published in this Website nad for any loss to Anybody or anything caused by any Shortcoming, Defect or Inaccuracy of the Information on this Website.Thank You!


CopyRight@2017  HindustanResult.Com All Rights Reserved     Contact Us