Logo HindustanResult.com

Share on:- Share

Current Affairs :- 18-January-2017
Second Raisina Dialogue held in New Delhi

The second edition of Ministry of External Affairs’ annual Raisina Dialogue was held in New Delhi with the theme “The New Normal: Multilateralism in a multipolar world”. The flagship geo-political conference was inaugurated by Prime Minister Narendra Modi and was attended by delegates from 65 countries.Raisina Dialogue is an annual conference held in New Delhi. It is envisioned to be India’s flagship conference of geopolitics and geo-economics. The conference is held jointly by Ministry of External Affairs and the Observer Research Foundation (ORF), an independent think tank based in India. The name of conference comes from Raisina Hill which is the elevation in New Delhi where presidential palace of India, Rashtrapati Bhavan is located.

Union Cabinet approves India’s Membership in the International Vaccine Institute

The Union Cabinet has given its approval to the proposal for India’s taking full membership of the International Vaccine Institute (IVI) Governing Council. This decision involves payment of annual contribution of US $5,00,000 to the IVI (headquartered in Seoul, South Korea).In 2007 with the approval of Union Cabinet, India joined IVI. Since then India is a long-term collaborator and stake-holder of IVI. In 2012, IVI’s Board of Trustees (BOT) had approved the formation of its new governance structure. As per the new structure of its member state has to contribute to the IVI by paying a portion of its core budget. Since India has been classified in Group-I, it has to pay an annual contribution of US $50,000.

Union Cabinet approves Trade Agreement negotiations with Peru

The Union Cabinet has approved holding negotiations for Trade Agreement with Peru on trade in goods, services and investment. The trade agreement will be an important landmark in India-Peru relations and consolidate the traditional fraternal relations that have existed between India and LAC countries. The trade agreement will enhance the trade and economic relations between the two countries.

NASA approves mission to explore iron-rich asteroid 16 Psyche

The National Aeronautics and Space Administration (NASA) has approved a mission to explore 16 Psyche, an iron-rich asteroid. As part of the mission, NASA craft will be launched in 2023, and will arrive at Psyche in 2030. The mineral contents on the asteroids are worth over 100-thousand times the value of the entire world economy.

Ministry of Earth Sciences commissions Higher Resolution Weather Prediction Model

The Union Ministry of Earth Sciences (MoES) has commissioned a very high resolution (12 km) global deterministic weather prediction model for generating operational weather forecasts. The model has been on trial since September 2016. It has shown significant improvements in skill of daily weather forecasts. It was made operational from January 2017.This model replaces the earlier version which had a horizontal resolution of 25 km which was very helpful, in predicting track and intensity of recent Cyclonic Storm Vardah and cold wave over northern India. MoES’s operational Ensemble Prediction System (EPS) was upgraded to 12 km. For this, High Performance Computing (HPC) system resources were augmented to 10 Peta Flops (PFs) from current 1.2 PFs.

DMCA.com Protection Status
.

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 18-January-2017 Click here
करेंट अफेयर्स :- 18-January-2017
बाबा रामदेव ने ओलिंपिक मेडलिस्ट को अखाड़े में दी पटखनी!

योग गुरु बाबा रामदेव ने 2008 पेइचिंग ओलिंपिक में सुशील कुमार को पटखनी देकर सिल्वर मेडल जीतने वाले पहलवान को धूल चटा दी। बुधवार को पतंजलि प्रो रेसलिंग लीग (PWL) के एक प्रमोशनल बाउट में रामदेव ने आंद्रे स्तादनिक को पटखनी दी। भगवा लंगोट में अखाड़े में उतरे रामदेव ने स्तादनिक को 12-0 के अंतर से हराया। पेइचिंग ओलिंपिक में स्तादनिक ने सुशील कुमार को हराया था। यूक्रेनी पहलवान के फाइनल में पहुंचने की वजह से सुशील कुमार को रेपेचेज राउंड खेलने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने ब्रॉन्ज मेडल जीता था।

बीजेपी में शामिल होने की चर्चा, कुमार विश्वास ने किया खंडन

खबर है कि इस सिलसिले में विश्वास की बीजेपी से बातचीत चल रही है। दोनों पक्षों के बीच सहमति बनने के बाद एक-दो दिनों में इस संबंध में ऐलान हो सकता है। उन्हें आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भी उतारे जाने के कयास लगाए जा रहे हैं। बीजेपी सूत्रों ने बताया कि कुमार विश्वास के साथ बातचीत अंतिम चरण में है और इस बारे में फैसला लिए जाने में ज्यादा देर नहीं की जाएगी क्योंकि यूपी चुनाव के लिए प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है। हालांकि इस बीच दिल्ली के उपमुख्यंत्री मनीष सिसोदिया ने मीडिया रिपोर्ट्स पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, 'मेरे पास तो खबर है कि यूपी चुनाव के बाद प्रधानमंत्री जी कांग्रेस में शामिल होने जा रहे हैं. उनकी राहुल गांधी से मुलाकात भी हो चुकी है!' कुमार विश्वास ने इसे रीट्वीट करने के साथ ही बीजेपी पर हमला किया है। उन्होंने कहा है कि 'आप' गोवा और पंजाब में दिल्ली दोहराने जा रही है और मोदी अफवाह फैला रहे हैं।

यूपी में महागठबंधन नहीं, सिर्फ कांग्रेस और एसपी मिलकर लड़ेंगी?

यूपी में बीजेपी के खिलाफ अखिलेश यादव के नेतृत्व में बनने वाली महागठबंधन के बनने से पहले संशय हो गया है। सूत्रों के अनुसार, आरएलडी और जेडीयू से अब तक एसपी या कांग्रेस के नेताओं ने कोई संपर्क नहीं किया गया है। एनबीटी को मिली सूचना के अनुसार, आरएलडी नेता अजित सिंह को अब तक कोई संदेश नहीं गया है। इस बीच मिल रहे संकेतों के अनुसार, अगर बात नहीं बनी तो कांग्रेस और अखिलेश की पार्टी दोनों मिलकर चुनाव लड़ेंगी। अब तक जेडीयू को भी गठबंधन में शामिल करने का कोई संकेत नहीं मिला है, जो इस गठबंधन का हिस्सा बनना चाह रही थी। सूत्रों के अनुसार, अगर आरएलडी से बात नहीं बनी तो कांग्रेस को आरएलडी की सीट मिल सकती है। ऐसे में कांग्रेस 130 से 140 सीटों तक चुनाव लड़ सकती है।

स्टैंडिंग कमिटी के कड़े सवालों पर पूर्व पीएम मनमोहन बने उर्जित की 'ढाल

नोटबंदी के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल को बुधवार को स्टैंडिंग कमिटी ऑफ फाइनैंस के कड़े सवालों का सामना करना पड़ा। हालांकि स्टैंडिंग कमिटी में मौजूद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कुछ पेचीदा सवालों पर आरबीआई गवर्नर का बचाव भी करते नजर आए। आरबीआई के गवर्नर रह चुके पूर्व पीएम ने स्टैंडिंग कमिटी के सामने उर्जित पटेल को वैसे सवालों का जवाब देने से रोका जिससे बाद में सर्वोच्च बैंक के लिए मुश्किल पैदा हो जाए।

मंद पड़ी पीएम मोदी के डिजिटल पेमेंट अभियान की रफ्तार, कार्ड पेमेंट छोड़ नकदी लेन-देन की ओर लौट रहे लोग

कैश की समस्या खत्म होते ही दिसंबर के आखिरी सप्ताह और शुरुआती जनवरी में कैशलेस पेमेंट में भारी गिरावट दर्ज की गई। व्यावसायिक संस्थानों में पेमेंट टर्मिनल्स इंस्टॉल करने वाली कंपनी पाइन लैब्स के सीईओ लोकवीर कपूर ने कहा, 'पिछले कुछ सप्ताह से कार्ड से लेन-देन में वृद्धि की रफ्तार कम हो रही है। वृद्धि अभी भी हो रही है, लेकिन सप्ताह दर सप्ताह इसकी रफ्तार सुस्त पड़ रही है।' पेमेंट इंडस्ट्री के अधिकारियों के मुताबिक, इसकी बड़ी वजह नकदी संकट खत्म होना है। सिस्टम में कैश आ चुके हैं और रिजर्व बैंक ने 500 रुपये के नोट भी सप्लाइ कर दी है। इसलिए, नवंबर-दिसंबर महीनों में जो लोग छोटा से छोटा अमाउंट कार्ड से पे कर रहे थे, उन्होंने दोबारा कैश का रुख कर लिया है। कपूर ने कहा, 'हमें देखने को मिला है कि जो लोग कार्ड से छोटे-छोटे पेमेंट कर रहे थे, वो अब कैश दे रहे हैं क्योंकि 2,000 रुपये का छुट्टा मिलना अब आसान हो गया है।' उन्होंने कहा, 'हमें इसकी आशंका पहले से थी। लेकिन, हमें यह भी भरोसा है कि कैशलेस ट्रांजैक्शन बढ़ता रहेगा।'

DMCA.com Protection Status
IMPORATANT LINKS
Current Affairs 18-January-2017 Click here

DMCA.com Protection Status Disclaimer : The Examination Results / Marks published in this Website is only for the Immediate Information to the Examinees an does not to be a constitute to be a Legal Document. While all efforts have been made to make the Information available on this Website as Authentic as possible. We are not responsible for any Inadvertent Error that may have crept in the Examination Results / Marks being published in this Website nad for any loss to Anybody or anything caused by any Shortcoming, Defect or Inaccuracy of the Information on this Website.Thank You!


CopyRight@2017  HindustanResult.Com All Rights Reserved     Contact Us