Logo HindustanResult.com

Share on:- Share

Current Affairs :- 11-January-2017
Second Scorpene class submarine INS Khanderi launched

INS Khanderi, the second Scorpene class submarine was launched at the Mazagon Dock Shipbuilders Limited (MDL) in Mumbai, Maharashtra. It is the second of the six submarines being built at MDL in collaboration with France’s DCNS as part of Project 75 of Indian Navy. It has been named Khanderi, after the Island fort of Maratha ruler Chhatrapati Shivaji which played had vital role in ensuring their supremacy at sea in late 17th century. Khanderi is also name for Tiger Shark. The state-of-the-art features include superior stealth and ability to launch a crippling attack on the enemy using precision guided weapon.

Guided Pinaka successfully test-fired

The Defence Research and Development Organisation (DRDO) successfully test-fired the Pinaka Rocket converted to a Guided Pinaka from Launch Complex-III, ITR, Chandipur (Odisha). The test-firing met all mission objectives. The flight-path Guided Pinaka was tracked and monitored by the radars, electro-optical and telemetry systems at Chandipur.Guided Pinaka is transformed version of the Pinaka Rocket Mark-II, which has evolved from Pinaka Mark-I. It has been jointly developed by ARDE Pune, DRDL Hyderabad and RCI Hyderabad. It is equipped with a navigation, guidance and control kit. This conversion considerably enhances the range and accuracy of Pinaka.

Effects of Endosulfan use devastating: SC

The Supreme Court has described side effects of Endosulfan, a highly toxic agrochemical (pesticide) as devastating. It has directed Kerala government to release entire Rs. 500 crore compensation to over 5,000 victims in three months who have suffered from various deformities and health complications due to use of Endosulfan in the state. It also asked the state to consider setting up a centre to provide lifelong medical treatment to all the victims. The major numbers of victims were reported to be affected in Kasargode (Kerala) after Endosulfan was aerially sprayed by state owned company on cashew plantations adjoining habitats where the victims are located. The apex court in 2011 had passed order to ban the production, distribution and use of endosulfan.

Government releases draft Prevention of Cruelty to Animals (Dog Breeding and Marketing) Rules, 2016

The Union Ministry of Environment, Forest and Climate Change (MoEFCC) has released draft notification of Prevention of Cruelty to Animals (Dog Breeding and Marketing Rules), 2016. The objective of the Rules is to make dog breeders and their marketers accountable and to prevent infliction of any cruelty on dogs in this process.In recent times dog breeding and their marketing trade also mushroomed all around but with little or no accountability. This is for the first time Government has framed rules on the breeding, sale and purchase of dogs in the country. Earlier there were also no specific rules for mandatory registration of breeders and establishments and requirements to be met by such breeders. These rules have been framed in pursuance of Prevention of Cruelty to Animals (PCA) Act, 1960 to prevent infliction of unnecessary pain, or suffering on animals.

India, Kenya sign MoU in area of agriculture

India and Kenya signed Memorandum of Understanding (MoU) for cooperation in the field of agriculture and allied sectors. India also announced $100 million Line of Credit (LoC) to Kenya for agricultural mechanization The agreement was signed after delegation level talks between Prime Minister Narendra Modi and Kenyian President Uhuru Kenyatta in New Delhi. It was first official state visit of President from Kenya to India since 1981. .

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 11-January-2017 Click here
करेंट अफेयर्स :- 11-January-2017
आतंकवाद से परेशान हो पाक से लगी सीमा को सील करेगा चीन?

आतंकवाद के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय मंच पर भले ही चीन पाकिस्तान के खिलाफ कभी न गया हो लेकन पाक समर्थित आतंकी गतिविधियां उसके लिए भी परेशानी बन गईं हैं। अब चीन ने अपने दोस्त यानी पाकिस्तान से लगती सीमा को सील करने का फैसला किया है।शिनहुआ न्यूज एजेंसी ने शिनजियांग सरकार के प्रमुख को कोट करते हुए लिखा कि, 'साल 2017 में आतंकवादियों को देश में घुसने से रोकने के लिए चीन-पाकिस्तान बॉर्डर को सील किया जाएगा।'

तालिबान पर पाकिस्तानी प्रभाव खत्म करने के लिए अफगानिस्तान बना रहा रणनीति

अफगानिस्तान तालिबान लड़ाकों को पाकिस्तानी प्रभाव से दूर रखने के लिए एक रणनीति पर काम कर रहा है। दरअसल, अफगानिस्तान की यह नीति अपने देश में तालिबान आतंकियों से बढ़ते संघर्ष को रोकना है। अफगानिस्तान के अधिकारी तालिबान लड़ाकों के लिए एक 'सेफ जोन' बनाने की कोशिश कर रहे हैं। अफगानिस्तान की यह योजना देश में पिछले 15 साल से जारी विद्रोह को रोकने की रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है। तालिबान लड़ाकों से शांति प्रयास के लगातार असफल होने के कारण अमेरिकी समर्थन वाली सेना को इस विद्रोह से काफी नुकसान उठाना पड़ा है।अगर अफगानिस्तान की योजना के अनुसार तालिबान पर पाकिस्तान का असर कम होता है देश की शांति के लिए यह कारगर हो सकता है। हालांकि इसके अच्छे और बुरे दोनों परिणाम आ सकते हैं। कंधार के पुलिस प्रमुख अब्दुल रज्जाक ने पिछले महीने एक सम्मेलन में कहा था, 'मैं तालिबान से अफगानिस्तान लौटने के आग्रह करता हूं। हमें तालिबान लड़ाकों और उनके परिजनों के लिए एक 'सेफ जोन' बनाने की जरूरत है।

US से खफा चीन ने भारत को दे डाली यह सीख

डॉनल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से अमेरिका से खफा चल रहे चीन ने अब भारत को सीख दी है। चीन के सरकारी अखबार का कहना है कि उसके और अमेरिका के बीच व्यापार युद्ध में भारत का झुकाव वॉशिंगटन की ओर रहेगा तो वह उसका भोलापन होगा। ग्लोबल टाइम्स अखबार में लिखा गया है, 'भारत के लिए यह सोचना अनाड़ीपन होगा कि अगर वह चीन व अमेरिका में जारी व्यापारिक खींचतान के मद्देनजर अमेरिका में नई सरकार के करीब रहता है तो उसे फायदा होगा और उसकी अर्थव्यवस्था फलेगी फूलेगी।' अमेरिका में डॉनल्ड ट्रंप की अगुवाई में नई सरकार इसी महीने गठित होगी। यह आर्टिकल ऐसे समय में आया है जबकि भारत में विनिर्माण क्षेत्र में बढ़ोतरी का प्रतिकूल असर चीन के निर्यात पर पड़ने की आशंका जताई जा रही है।

फर्जी जाति प्रमाण पत्र पकड़ने की व्यवस्था बनाएं कॉलेज: एआईसीटीई

कॉलेजों में दाखिले के लिए फर्जी जाति प्रमाणपत्र के इस्तेमाल को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कड़ा रुख अपनाया है। इसे देखते हुए एआईसीटीई ने एहतियाती कदम उठाने के लिए इस तरह के मामलों का एक डेटाबेस तैयार करने का फैसला लिया है। एक हालिया सर्कुलर में ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने कहा है कि भारत सरकार शैक्षणिक संस्थानों में दाखिले के लिए फर्जी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और ओबीसी प्रमाणपत्रों के इस्तेमाल के संबंध प्राप्त होने वाली शिकायतों को लेकर चिंता जताई है। भारत सरकार द्वारा जताई गई चिंता को देखते हुए एआईसीटीई ने सभी संस्थानों को दाखिला प्रक्रिया के दौरान फर्जी प्रमाणपत्रों को पकड़ने की व्यवस्था बनाने के लिए कहा है।

दिल्ली सरकार बदलेगी स्कूलों का एग्जामिनेशन पैटर्न

सरकार ने गवर्नमेंट स्कूलों के एग्जामिनेशन सिस्टम में रिफॉर्म्स के लिए पहल की है। डेप्युटी सीएम और एजुकेशन मिनिस्टर मनीष सिसोदिया ने देश के जाने-माने शिक्षाविदों को लेटर लिखा है। उनसे 8वीं क्लास तक के असेसमेंट और एग्जामिनेशन सिस्टम में किए जाने वाले जरूरी बदलावों पर फीडबैक मांगा है। डेप्युटी सीएम ने लिखा है कि क्लासरूम में टीचिंग-लर्निंग प्रोसेस के लिए असेसमेंट पैटर्न काफी अहम है। क्लास रूम टीचिंग को बदलने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं और इन बदलावों को देखते हुए असेसमेंट और एग्जामिनेशन सिस्टम को भी उसी के हिसाब से बदला जाना जरूरी है। दिल्ली सरकार ने शिक्षाविदों को 6-8 क्लास तक के क्वेस्चन पेपर भी भेजे हैं और उनसे पूछा है कि इन क्वेस्चन पेपर में क्या-क्या चेंज किए जा सकते हैं?दिल्ली सरकार चाहती है कि क्लास रूम में क्रिऐटिविटी, इनोवेशन और क्रिटिकल थिंकिंग को बढ़ावा मिले और उसी हिसाब से असेसमेंट प्रोसेस हों, ताकि यह पता चल सके कि क्लास रूम टीचिंग में हो रहे बदलावों का स्टूडेंट्स पर क्या असर हो रहा है। स्टूडेंट्स एग्जामिनेशन सिस्टम को बोझ न समझें बल्कि एग्जामिनेशन सिस्टम ऐसा होना चाहिए ताकि स्टूडेंट्स की स्किल्स और अबिलिटी निखर कर सामने आए। रटने का सिस्टम पूरी तरह से दूर किया जाना चाहिए।

IMPORATANT LINKS
Current Affairs 11-January-2017 Click here

DMCA.com Protection Status Disclaimer : The Examination Results / Marks published in this Website is only for the Immediate Information to the Examinees an does not to be a constitute to be a Legal Document. While all efforts have been made to make the Information available on this Website as Authentic as possible. We are not responsible for any Inadvertent Error that may have crept in the Examination Results / Marks being published in this Website nad for any loss to Anybody or anything caused by any Shortcoming, Defect or Inaccuracy of the Information on this Website.Thank You!


CopyRight@2017  HindustanResult.Com All Rights Reserved     Contact Us